ढुंढ रही हूँ हंसी, कही खो सी गई है
ढूंढ रही हूँ खुशी, कही छुप सी गई है
ढूंढ रही हूँ सुकून, कही गायब हो रखा है
ढूंढ रही हूँ जिन्दगी, कही मायूस हो बैठी है
ढूंढ रही हूँ खुद को, कही बदल सी गई हूँ..!!😩