1 comment on “Akbar Birbal Stories – कुँए का पानी!”

Akbar Birbal Stories – कुँए का पानी!

एक बार एक आदमी ने अपना कुंआ एक किसान को बेच दिया।
अगले दिन जब किसान ने कुंए से पानी खिंचना शुरू किया तो उस व्यक्ति ने किसान से पानी लेने के लिए मना किया।

Advertisements
0 comments on “Akbar Birbal Stories – छोटा बांस बड़ा बांस”

Akbar Birbal Stories – छोटा बांस बड़ा बांस

एक दिन बादशाह अकबर एवं बीरबल बाग में सैर कर रहे थे। बीरबल लतीफा सुना रहा था और बादशाह अकबर उसका मजा ले रहे थे।

0 comments on “Akbar Birbal Stories – खाने के बाद लेटना!”

Akbar Birbal Stories – खाने के बाद लेटना!

किसी समय बीरबल ने बादशाह अकबर को यह कहावत सुनाई थी कि खाकर लेट जा और मारकर भाग जा- यह सयाने लोगों की पहचान है।

0 comments on “Akbar Birbal Stories – गधा कौन?”

Akbar Birbal Stories – गधा कौन?

एक बार बादशाह अकबर अपने दो बेटों के साथ नदी के किनारे गए। साथ में बीरबल भी थे।

दोनों बेटों ने अपने कपडे़ उतारे और नदी में नहाने उतर गए।

0 comments on “Akbar Birbal Stories – कवि और धनवान!”

Akbar Birbal Stories – कवि और धनवान!

एक दिन एक कवि किसी धनी आदमी से मिलने गया और उसे कई सुंदर कविताएं इस उम्मीद के साथ सुनाईं कि शायद वह धनवान खुश होकर कुछ ईनाम जरूर देगा।

0 comments on “Akbar Birbal Stories – कल आज और कल!”

Akbar Birbal Stories – कल आज और कल!

एक दिन बादशाह अकबर ने ऐलान किया कि जो भी मेरे सवालों का सही जवाब देगा उसे भारी ईनाम दिया जाएगा। सवाल कुछ इस प्रकार से थे : –

0 comments on “Akbar Birbal Stories – ईश्वर अच्छा ही करता है!”

Akbar Birbal Stories – ईश्वर अच्छा ही करता है!

बीरबल एक ईमानदार तथा धर्म-प्रिय व्यक्ति था। वह प्रतिदिन ईश्वर की आराधना बिना नागा किया करता था। इससे उसे नैतिक व मानसिक बल प्राप्त होता था।

0 comments on “Akbar Birbal Stories – पहली मुलाकात!”

Akbar Birbal Stories – पहली मुलाकात!

बादशाह अकबर को शिकार का बहुत शौक था। वे किसी भी तरह शिकार के लिए समय निकाल ही लेते थे। बाद में वे अपने समय के बहुत ही अच्छे घुड़सवार और शिकारी भी कहलाए।

0 comments on “Akbar Birbal Stories – ऊँट की गरदन !”

Akbar Birbal Stories – ऊँट की गरदन !

बादशाह अकबर बीरबल की हाजिर जवाबी के बडे़ कायल थे। एक दिन दरबार में खुश होकर उन्होंने बीरबल को कुछ पुरस्कार देने की घोषणा की,

0 comments on “Akbar Birbal Stories – अंधों की संख्या!”

Akbar Birbal Stories – अंधों की संख्या!

एक दिन बादशाह अकबर ने बीरबल से पूछा- बीरबल जरा बताओ तो उस दुनिया में किसकी संख्या अधिक है, जो देख सकते हैं या जो अंधे हैं?