250+ Dooriyan shayari | Duri shayari in hindi | Dur jane ki shayari | shayari on Dooriyan

Dooriyan shayari

Kitna Ajeeb Hai Yeh Falsafa Zindagi Ka,
Doorian Batati Hain Najdikiyon Ki Keemat.

कितना अजीब है ये फलसफा जिंदगी का,
दूरियाँ बताती हैं नजदीकियों की कीमत।

Shayari on Dooriyan

Jara Kareeb Aao Toh Shayad Humein Samajh Paao,
Yeh Dooriyan Toh Sirf Galt-Fehmiyan Barhati Hain.

ज़रा क़रीब आओ तो शायद हमें समझ पाओ,
यह दूरियां तो सिर्फ गलत-फहमियां बढ़ाती हैं।

Shayari on Dooriyan

Dur Rah Kar Kareeb Rehne Ki Aadat Hai,
Yaad Bankar Aankhon Se Bahne Ki Aadat Hai,
Kareeb Na Hote Hue Bhi Kareeb Paoge,
Mujhe Ehsaas Bankar Rahne Ki Aadat Hai.

दूर रह कर करीब रहने की आदत है,
याद बन के आँखों से बहने की आदत है,
करीब न होते हुए भी करीब पाओगे,
मुझे एहसास बनकर रहने कि आदत है।

Shayari on Dooriyan

Woh Jo Hamare Liye Kuchh Khaas Hote Hain,
Jinke Liye Dil Mein Ehsaas Hote Hain,
Chaahe Waqt Kitna Bhi Dur Kar De Unhein,
Dur Reh Ke Bhi Woh Dil Ke Paas Hote Hain.

वो जो हमारे लिए कुछ ख़ास होते हैं,
जिनके लिए दिल में एहसास होते हैं,
चाहे वक़्त कितना भी दूर कर दे उन्हें,
दूर रह के भी वो दिल के पास होते हैं।

Shayari on Dooriyan

Mere Dil Ko Agar Tera Ehsaas Nahi Hota,
Tu Dur Rah Kar Bhi Yun Paas Nahi Hota,
Iss Dil Mein Teri Chahat Aise Basi Hai,
Ek Lamha Bhi Tujh Bin Khaas Nahi Hota.

मेरे दिल को अगर तेरा एहसास नहीं होता,
तू दूर रह कर भी यूं मेरे पास नहीं होता,
इस दिल में तेरी चाहत ऐसे बसा ली है,
एक लम्हा भी तुझ बिन ख़ास नहीं होता।

Shayari on Dooriyan

Tere Wajood Ki Khushboo Basi Hai Meri Saanso Mein,
Ye Aur Baat Hai Ke Najar Se Dur Rahte Ho Tum.

तेरे वज़ूद की खुशबू बसी है मेरी साँसों में,
ये और बात है कि नजर से दूर रहते हो तुम।

dooriyanshayari, shayari on dooriyan, duri shayari in hindi, hindi duri shayari,

Shayari on Dooriyan

Woh Hain Khafa Humse Ya Hum Hain Khafa Unse,
Bas Isee Kashmakash Mein Dooriyan Barhti Rahin.

वो हैं खफा हमसे या हम हैं खफा उनसे,
बस इसी कशमकश में दूरियाँ बढ़ती रहीं।

Shayari on Dooriyan

Ye Dooriyan Toh Mita Doon Main Ek Pal Mein Magar,
Kabhi Kadam Nahi Chalte Kabhi Raste Nahi Milte.

ये दूरियाँ तो मिटा दूँ मैं एक पल में मगर,
कभी कदम नहीं चलते कभी रास्ते नहीं मिलते।

Shayari on Dooriyan

Tujhse Dur Rah Kar Kuchh Yun Waqt Gujara Maine,
Na Honthh Hile Fir Bhi Tujhe Pal Pal Pukara Maine.

तुझसे दूर रहकर कुछ यूँ वक़्त गुजारा मैंने,
ना होंठ हिले फिर भी तुझे पल-पल पुकारा मैंने।

Shayari on Dooriyan

Usne Mujhse Na Jane Kyun Yeh Doorie Kar Li,
Bichhad Ke Usne Mohabbat Hi Adhoori Kar Di,
Mere Mukaddar Mein Dard Aaya Toh Kya Hua,
Khuda Ne Uski Khwahish Toh Poori Kar Dai.

उसने मुझसे ना जाने क्यों ये दूरी कर ली,
बिछड़ के उसने मोहब्बत ही अधूरी कर दी,
मेरे मुकद्दर में दर्द आया तो क्या हुआ,
खुदा ने उसकी ख्वाहिश तो पूरी कर दी।

Love Guru in Hindi

Shayari on Dooriyan

Galtiyon Se Juda Tu Bhi Nahi Aur Main Bhi Nahi,
Dono Insaan Hain Khuda Tu Bhi Nahi Main Bhi Nahi,
GalatFehmiyon Ne Kar Di Dono Mein Paida Durian,
Varna Fitrat Ka Bura Tu Bhi Nahi Main Bhi Nahi.

गलतियों से जुदा तू भी नहीं और मैं भी नहीं,
दोनों इंसान हैं ख़ुदा तू भी नहीं, मैं भी नहीं,
गलतफहमियों ने कर दी दोनों में पैदा दूरियां,
वरना फितरत का बुरा तू भी नहीं मैं भी नहीं।

Duri shayari in hindi

Mujhse Milne Ko Karta Tha Bahane Kitne,
Ab Mere Bina Gujarega Woh Zamane Kitne.

मुझसे मिलने को करता था बहाने कितने,
अब मेरे बिना गुजारेगा वो जमाने कितने।

Duri shayari in hindi

Mujhko Tere Salaam Se Shikwa Nahi Magar,
Berukhi Ke Saath Ho Bas Dur Ka Na Ho.

मुझको तेरे सलाम से शिकवा नहीं मगर,
बेरुखी के साथ हो बस दूर का न हो।

Duri shayari in hindi

Doorie Ne Kar Diya Hai Tujhe Aur Bhi Kareeb,
Tera Khayal Aa Kar Na Jaye Toh Kya Karein.

दूरी ने कर दिया है तुझे और भी करीब,
तेरा ख़याल आ कर न जाये तो क्या करें।

Duri shayari in hindi

Tum Kitne Dur Ho Mujhse
Main Kitna Paas Hun Tumse,
Tumhein Pana Bhi Namumkin
Tumhein Khona Bhi Namumkin.

तुम कितने दूर हो मुझसे
मैं कितना पास हूँ तुमसे,
तुम्हें पाना भी नामुमकिन
तुम्हें खोना भी नामुमकिन।

Duri shayari in hindi

Ek Umr Bhar Ki Judai Mera Naseeb Karke,
Woh Toh Chala Gaya Hai Baatein Ajeeb Karke,
Tarz-e-Wafa Ko Uski Kya Naam Dun Main Ab,
Khud Door Ho Gaya Hai Mujhko Qareeb Karke.

एक उम्र भर की जुदाई मेरा नसीब करके,
वो तो चला गया है बातें अजीब करके,
तर्ज़-ए-वफ़ा को उसकी क्या नाम दूँ मैं अब,
खुद दूर हो गया है मुझको करीब करके।

Duri shayari in hindi

Duriyo Se Koi Farq Nahi Padta,
Baat Toh Dilo Ki Nazdikiyo Se Hoti Hai,
Dosti To Kuch Aap Jaiso Se Hai,
Varna Mulaqat To Jane Kitno Se Hoti Hai.

दूरियों से फर्क पड़ता नहीं,
बात तो दिलों कि नज़दीकियों से होती है,
दोस्ती तो कुछ आप जैसो से है,
वरना मुलाकात तो जाने कितनों से होती है।

Duri shayari in hindi

Humare Darmiyan Yeh Durian Na Hoti,
Aur Kuchh Meri Majburian Na Hoti,
Rahte Na Yun Mere Haath Khaali,
Gar Rasmon Ki Yeh Bediyan Na Hoti.

हमारे दरमियाँ ये दूरियां ना होती,
और कुछ मेरी मजबूरियाँ ना होती,
रहते ना यूं मेरे हाथ खाली,
गर रस्मों की ये बेड़ियाँ ना होती।

Duri shayari in hindi

Duriyon Ki Na Parwah Kijiye,
Dil Jab Bhi Pukare Hume Bula Lijiye,
Hum Zyada Dur Nahi Aapse,
Bas Apni Palkon Ko Aankhon Se Mila Lijiye.

दूरियों की ना परवाह कीजिये,
दिल जब भी पुकारे बुला लीजिये,
कहीं दूर नहीं हैं हम आपसे,
बस अपनी पलकों को आँखों से मिला लीजिये।

live Shayari

Duri shayari in hindi

Yeh Doorie Humse Ab Aur Sahi Nahi Jaati,
Bas Tere Paas Aane Ko Mera Jee Chahta Hai,
Tod Kar Saari Duniya Ki Rasmo-Riwajon Ko,
Tujhe Apna Banaane Ko Jee Chahta Hai.

ये दूरी हमसे अब और सही नहीं जाती,
बस तेरे पास आने को मेरा जी चाहता है,
तोड़ कर सारी दुनिया कि रस्मो-रिवाजों को,
तुझे अपना बनाने को जी चाहता है।

Duri shayari in hindi

Dooriyon Se Rishton Mein Fark Nahi Padta,
Baat Toh Dil Ki Najdeekiyon Ki Hoti Hai,
Paas Rehne Se Bhi Rishte Nahi Ban Paate,
Warna Mulakaat Toh Roz Kitno Se Hoti Hain.

दूरिओं से रिश्तों में फर्क नहीं पड़ता,
बात तो दिल की नजदीकियों की होती है,
पास रहने से भी रिश्ते नहीं बन पाते,
वरना मुलाकात तो रोज कितनों से होती है।

Duri shayari in hindi

Doorr Rehna Aapka Humse Saha Nahi Jata,
Juda Hoke Aapse Humse Raha Nahi Jata,
Ab Toh Waapas Laut Aaiye Hamare Paas,
Dil Ka Haal Ab Kisi Se Kaha Nahi Jata.

दूर रहना आपका हमसे सहा नहीं जाता,
जुदा होके आपसे हमसे रहा नहीं जाता,
अब तो वापस लौट आइये हमारे पास,
दिल का हाल अब किसी से कहा नहीं जाता।

Duri shayari in hindi

Saza Na De Mujhe Be-Qasoor Hoon Main,
Thaam Le Mujh Ko Ghamon Se Choor Hoon Main,
Teri Doorie Ne Kar Diya Hai Pagal Mujhe,
Aur Log Kehte Hain Ke Magroor Hoon Main.

सजा न दे मुझे बेक़सूर हूँ मैं,
थाम ले मुझको ग़मों से चूर हूँ मैं,
तेरी दूरी ने कर दिया है पागल मुझे,
और लोग कहते हैं कि मगरूर हूँ मैं।

Duri shayari in hindi

Doorian Bahut Hain Par Itna Smajh Lo,
Pass Rahkar Koyi Rishta Khas Nahi Hota,
Tum Mere Dil Ke Pass Itne Ho Ki,
Mujhe Dooriyon Ka Ehsaas Nahi Hota.

Duri shayari in hindi

Tere Liye Khudko Majboor Kar Liya,
Zakhmo Ko Humne Apne Nasoor Kar Liya,
Mere Dil Me Kya Tha Ye Jaane Bina,
Tune Khudko Humse Kitna Door Liya.

Duri shayari in hindi

Aap Ki Yadein Amanat Hain Hamari,
Aap Ki Khushi Chahat Hai Hamari,
Aap Se Wafa Fitrat Hai Hamari, Par…
Aap Se Doori Shayad Kismat Hai Hamari.

Dooriyan shayari

Dooriyon Se Rishton Mein Fark Nahi Padta,
Baat Toh Dil Ki Najdeekiyon Ki Hoti Hai,
Paas Rehne Se Bhi Rishte Nahi Ban Paate,
Warna Mulakaat Toh Roz Kitno Se Hoti Hain.

दूरिओं से रिश्तों में फर्क नहीं पड़ता,
बात तो दिल की नजदीकियों की होती है,
पास रहने से भी रिश्ते नहीं बन पाते,
वरना मुलाकात तो रोज कितनों से होती है।

Dooriyan shayari

Dur Rah Kar Kareeb Rehne Ki Aadat Hai,
Yaad Bankar Aankhon Se Bahne Ki Aadat Hai,
Kareeb Na Hote Hue Bhi Kareeb Paoge,
Mujhe Ehsaas Bankar Rahne Ki Aadat Hai.

दूर रह कर करीब रहने की आदत है,
याद बन के आँखों से बहने की आदत है,
करीब न होते हुए भी करीब पाओगे,
मुझे एहसास बनकर रहने कि आदत है।

Dooriyan shayari

Woh Jo Hamare Liye Kuchh Khaas Hote Hain,
Jinke Liye Dil Mein Ehsaas Hote Hain,
Chaahe Waqt Kitna Bhi Dur Kar De Unhein,
Dur Reh Ke Bhi Woh Dil Ke Paas Hote Hain.

वो जो हमारे लिए कुछ ख़ास होते हैं,
जिनके लिए दिल में एहसास होते हैं,
चाहे वक़्त कितना भी दूर कर दे उन्हें,
दूर रह के भी वो दिल के पास होते हैं।

Dooriyan shayari

Mere Dil Ko Agar Tera Ehsaas Nahi Hota,
Tu Dur Rah Kar Bhi Yun Paas Nahi Hota,
Iss Dil Mein Teri Chahat Aise Basi Hai,
Ek Lamha Bhi Tujh Bin Khaas Nahi Hota.

मेरे दिल को अगर तेरा एहसास नहीं होता,
तू दूर रह कर भी यूं मेरे पास नहीं होता,
इस दिल में तेरी चाहत ऐसे बसा ली है,
एक लम्हा भी तुझ बिन ख़ास नहीं होता।

Dooriyan shayari

Tere Wajood Ki Khushboo Basi Hai Meri Saanso Mein,
Ye Aur Baat Hai Ke Najar Se Dur Rahte Ho Tum.

तेरे वज़ूद की खुशबू बसी है मेरी साँसों में,
ये और बात है कि नजर से दूर रहते हो तुम।

Dooriyan shayari

Woh Hain Khafa Humse Ya Hum Hain Khafa Unse,
Bas Isee Kashmakash Mein Dooriyan Barhti Rahin.

वो हैं खफा हमसे या हम हैं खफा उनसे,
बस इसी कशमकश में दूरियाँ बढ़ती रहीं।

Dooriyan shayari

Tujhse Dur Rah Kar Kuchh Yun Waqt Gujara Maine,
Na Honthh Hile Fir Bhi Tujhe Pal Pal Pukara Maine.

तुझसे दूर रहकर कुछ यूँ वक़्त गुजारा मैंने,
ना होंठ हिले फिर भी तुझे पल-पल पुकारा मैंने।

Dooriyan shayari

Ye Dooriyan Toh Mita Doon Main Ek Pal Mein Magar,
Kabhi Kadam Nahi Chalte Kabhi Raste Nahi Milte.

ये दूरियाँ तो मिटा दूँ मैं एक पल में मगर,
कभी कदम नहीं चलते कभी रास्ते नहीं मिलते।

Dooriyan shayari

Galtiyon Se Juda Tu Bhi Nahi Aur Main Bhi Nahi,
Dono Insaan Hain Khuda Tu Bhi Nahi Main Bhi Nahi,
GalatFehmiyon Ne Kar Di Dono Mein Paida Durian,
Varna Fitrat Ka Bura Tu Bhi Nahi Main Bhi Nahi.

गलतियों से जुदा तू भी नहीं और मैं भी नहीं,
दोनों इंसान हैं ख़ुदा तू भी नहीं, मैं भी नहीं,
गलतफहमियों ने कर दी दोनों में पैदा दूरियां,
वरना फितरत का बुरा तू भी नहीं मैं भी नहीं।

Dooriyan shayari

Usne Mujhse Na Jane Kyun Yeh Doorie Kar Li,
Bichhad Ke Usne Mohabbat Hi Adhoori Kar Di,
Mere Mukaddar Mein Dard Aaya Toh Kya Hua,
Khuda Ne Uski Khwahish Toh Poori Kar Dai.

उसने मुझसे ना जाने क्यों ये दूरी कर ली,
बिछड़ के उसने मोहब्बत ही अधूरी कर दी,
मेरे मुकद्दर में दर्द आया तो क्या हुआ,
खुदा ने उसकी ख्वाहिश तो पूरी कर दी।

Dooriyan shayari

Kitna Ajeeb Hai Yeh Falsafa Zindagi Ka,
Doorian Batati Hain Najdikiyon Ki Keemat.

कितना अजीब है ये फलसफा जिंदगी का,
दूरियाँ बताती हैं नजदीकियों की कीमत।

Dooriyan shayari

Jara Kareeb Aao Toh Shayad Humein Samajh Paao,
Yeh Dooriyan Toh Sirf Galt-Fehmiyan Barhati Hain.

ज़रा क़रीब आओ तो शायद हमें समझ पाओ,
यह दूरियां तो सिर्फ गलत-फहमियां बढ़ाती हैं।

Dooriyan shayari

Mujhse Milne Ko Karta Tha Bahane Kitne,
Ab Mere Bina Gujarega Woh Zamane Kitne.

मुझसे मिलने को करता था बहाने कितने,
अब मेरे बिना गुजारेगा वो जमाने कितने।

Dooriyan shayari

Mujhko Tere Salaam Se Shikwa Nahi Magar,
Berukhi Ke Saath Ho Bas Dur Ka Na Ho.

मुझको तेरे सलाम से शिकवा नहीं मगर,
बेरुखी के साथ हो बस दूर का न हो।

Dooriyan shayari

Doorie Ne Kar Diya Hai Tujhe Aur Bhi Kareeb,
Tera Khayal Aa Kar Na Jaye Toh Kya Karein.

दूरी ने कर दिया है तुझे और भी करीब,
तेरा ख़याल आ कर न जाये तो क्या करें।

Dooriyan shayari

Tum Kitne Dur Ho Mujhse Main Kitna Paas Hun Tumse,
Tumhein Pana Bhi Namumkin Tumhein Khona Bhi Namumkin.

तुम कितने दूर हो मुझसे मैं कितना पास हूँ तुमसे,
तुम्हें पाना भी नामुमकिन तुम्हें खोना भी नामुमकिन।

Dooriyan shayari

Ek Umr Bhar Ki Judai Mera Naseeb Karke,
Woh Toh Chala Gaya Hai Baatein Ajeeb Karke,
Tarz-e-Wafa Ko Uski Kya Naam Dun Main Ab,
Khud Door Ho Gaya Hai Mujhko Qareeb Karke.

एक उम्र भर की जुदाई मेरा नसीब करके,
वो तो चला गया है बातें अजीब करके,
तर्ज़-ए-वफ़ा को उसकी क्या नाम दूँ मैं अब,
खुद दूर हो गया है मुझको करीब करके।

Dooriyan shayari

Mohabbat Aisi Thi Ke Unko Batayi Na Gayi,
Chot Dil Par Thi Iss Liye Dikhayi Na Gayi,
Chahte Nahi The Unse Dur Hona Par,
Doorie Itni Thi Ke Mitaayi Na Gayi.

मोहब्बत ऐसी थी कि उनको बताई न गयी,
चोट दिल पर थी इसलिए दिखाई न गयी,
चाहते नहीं थे उनसे दूर होना पर,
दूरी इतनी थी कि मिटाई न गयी।

Dooriyan shayari

Duriyo Se Koi Farq Nahi Padta,
Baat Toh Dilo Ki Nazdikiyo Se Hoti Hai,
Dosti To Kuch Aap Jaiso Se Hai,
Varna Mulaqat To Jane Kitno Se Hoti Hai.

दूरियों से फर्क पड़ता नहीं,
बात तो दिलों कि नज़दीकियों से होती है,
दोस्ती तो कुछ आप जैसो से है,
वरना मुलाकात तो जाने कितनों से होती है।

Dooriyan shayari

Humare Darmiyan Yeh Durian Na Hoti,
Aur Kuchh Meri Majburian Na Hoti,
Rahte Na Yun Mere Haath Khaali,
Gar Rasmon Ki Yeh Bediyan Na Hoti.

हमारे दरमियाँ ये दूरियां ना होती,
और कुछ मेरी मजबूरियाँ ना होती,
रहते ना यूं मेरे हाथ खाली,
गर रस्मों की ये बेड़ियाँ ना होती।

Dooriyan shayari

Duriyon Ki Na Parwah Kijiye,
Dil Jab Bhi Pukare Hume Bula Lijiye,
Hum Zyada Dur Nahi Aapse,
Bas Apni Palkon Ko Aankhon Se Mila Lijiye.

दूरियों की ना परवाह कीजिये,
दिल जब भी पुकारे बुला लीजिये,
कहीं दूर नहीं हैं हम आपसे,
बस अपनी पलकों को आँखों से मिला लीजिये।

Dooriyan shayari

Yeh Doorie Humse Ab Aur Sahi Nahi Jaati,
Bas Tere Paas Aane Ko Mera Jee Chahta Hai,
Tod Kar Saari Duniya Ki Rasmo-Riwajon Ko,
Tujhe Apna Banaane Ko Jee Chahta Hai.

ये दूरी हमसे अब और सही नहीं जाती,
बस तेरे पास आने को मेरा जी चाहता है,
तोड़ कर सारी दुनिया कि रस्मो-रिवाजों को,
तुझे अपना बनाने को जी चाहता है।

Dooriyan shayari

Doorr Rehna Aapka Humse Saha Nahi Jata,
Juda Hoke Aapse Humse Raha Nahi Jata,
Ab Toh Waapas Laut Aaiye Hamare Paas,
Dil Ka Haal Ab Kisi Se Kaha Nahi Jata.

दूर रहना आपका हमसे सहा नहीं जाता,
जुदा होके आपसे हमसे रहा नहीं जाता,
अब तो वापस लौट आइये हमारे पास,
दिल का हाल अब किसी से कहा नहीं जाता।

Dooriyan shayari

Saza Na De Mujhe Be-Qasoor Hoon Main,
Thaam Le Mujh Ko Ghamon Se Choor Hoon Main,
Teri Doorie Ne Kar Diya Hai Pagal Mujhe,
Aur Log Kehte Hain Ke Magroor Hoon Main.

सजा न दे मुझे बेक़सूर हूँ मैं,
थाम ले मुझको ग़मों से चूर हूँ मैं,
तेरी दूरी ने कर दिया है पागल मुझे,
और लोग कहते हैं कि मगरूर हूँ मैं।

Dooriyan shayari

Doorian Bahut Hain Par Itna Smajh Lo,
Pass Rahkar Koyi Rishta Khas Nahi Hota,
Tum Mere Dil Ke Pass Itne Ho Ki,
Mujhe Dooriyon Ka Ehsaas Nahi Hota.

Dooriyan shayari

Tere Liye Khudko Majboor Kar Liya,
Zakhmo Ko Humne Apne Nasoor Kar Liya,
Mere Dil Me Kya Tha Ye Jaane Bina,
Tune Khudko Humse Kitna Door Liya.

Dooriyan shayari

Aap Ki Yadein Amanat Hain Hamari,
Aap Ki Khushi Chahat Hai Hamari,
Aap Se Wafa Fitrat Hai Hamari,
Par…
Aap Se Doori Shayad Kismat Hai Hamari.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *